मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली निवासियों को 24 घंटे स्वच्छ पानी की आपूर्ति देने के संबंध में आज दिल्ली जल बोर्ड के साथ समीक्षा बैठक की। इस समीक्षा बैठक में दिल्ली को 24 घंटे पानी की आपूर्ति देने को लेकर जलबोर्ड की वर्तमान में चल रही और भविष्य में पूरी होने वाली विभिन्न परियोजनाओं पर विस्तार से चर्चा की गई। साथ ही, पूरी दिल्ली में सीवर लाइन बिछाने और रेन वाॅटर हार्वेस्टिंग को लेकर भी जल बोर्ड ने प्रजेंटेशन दिया। जल बोर्ड ने मुख्यमंत्री के सामने सीवर लाइन और रेन वाॅटर हार्वेस्टिंग को लेकर अपना पूरा प्लान रखा। इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वे हर महीने पानी आपूर्ति, रेन वाॅटर हार्वेस्टिंग और सीवर पाइप लाइन बिछाने के प्रोजेक्ट की प्रगति की समीक्षा करेंगे। समीक्षा बैठक में दिल्ली जल बोर्ड के चेयरमैन सतेंद्र जैन और उपाध्यक्ष राघव चड्ढा के साथ वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।
इस अवसर पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमें सभी प्रोजेक्ट को निर्धारित समय सीमा के अंदर पूरा करने पर ध्यान देना होगा। जो प्रोजेक्ट चल रहे हैं, उनके पूरा होने की समय सीमा निर्धारित की गई है। इसी समय सीमा के अंदर प्रोजेक्ट का काम पूरा करना होगा, जिससे हम लोगों को जल्द राहत पहुंचा सकेंगे और उसमें पैसे की फिजूलखर्ची भी रोक सकेंगे। उन्होंने कहा कि मैं दिल्ली को 24 घंटे पानी की आपूर्ति को लेकर चल रहे प्रोजेक्ट की हर महीने की 15 तारीख के आसपास समीक्षा करूंगा और समीक्षा बैठक में दिल्ली जल बोर्ड के अधिकारी प्रजेंटेशन के माध्यम से उन्हें कार्य की प्रगति के बारे में जानकारी देंगे। इस समीक्षा बैठक में वाॅटर हार्वेस्टिंग और सीवर लाइन के प्रोजेक्ट की प्रगति रिपोर्ट भी देनी होगी।
इस दौरान डीजेबी के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को बताया कि एसटीपी और एसपीएस के निर्माण के लिए सात स्थानों पर जमीन की समस्या आ रही है। इस पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जहां पर भी जमीन को लेकर समस्या आ रही है, उसके लिए मैं एलजी साहब से बात करूंगा। उन्होंने कहा कि रेन वाॅटर हार्वेस्टिंग का नया माॅडल अपनाया जाएगा और आवासीय और व्यावसायिक क्षेत्रों में पानी को फिल्टर करके बोरवेल में डाला जाएगा।